October 21, 2018

Latest News

नि:शुल्क सायकिल वितरण योजना

वर्ष 2004 से लागू इस योजना का उद्देश्य प्रारंभिक शिक्षा पूर्ण कर चुकी छात्राओं को आगे शिक्षा जारी रखने के लिये प्रोत्साहित करना है। योजना के तहत अपने गांव से दूसरे गांव की शासकीय शाला में कक्षा नौ में प्रवेश करने वाली बालिकाओं को राज्य शासन द्वारा नि:शुल्क सायकिल प्रदान की जाती है। इसका लाभ ग्रामीण क्षेत्र की अनुसूचित जाति , अनुसूचित जनजाति , अन्य पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य वर्ग की बालिकाओं को मिलता है। वर्ष 2009 से इसका विस्तार करते हुए सभी प्रवर्ग की बालिकाओं को इसका लाभ दिया जाने लगा है।

इस योजना का और विस्तार करते हुए ऐसी बालिकाओं को भी नि:शुल्क सायकिलें दी जाने लगी हैं जिनके गावं में माध्यमिक शाला नहीं है और जो किसी अन्य गांव में स्थित शासकीय माध्यमिक शाला में छठवीं कक्षा में प्रवेश लेती हैं।

योजना लागू होने से पहले ऐसी लाखों बालिकाएं थीं , जो प्रारंभिक पढ़ाई पूरी करने के बाद सिर्फ इसलिए घर में बैठ जाती थीं , क्योंकि आगे की पढ़ाई के लिए मिडिल , हाई और हायर सेकेण्डरी स्कूल गांव के बाहर थें और उनके पास वहाँ जाने का साधन नहीं था। पैदल जाना कठिन भी था और असुरक्षित भी। इस योजना से अब यह समस्या दूर हो गई है।