September 25, 2017

Latest News

स्वाइन फ्लू की रोकथाम के लिये तहसील स्तर पर कंट्रोल रूम, संभावित मरीजों की जांच हेतु शिविर

उज्जैन 05 सितम्बर। स्वाइन फ्लू रोकथाम के लिये तहसील स्तर पर कंट्रोल रूम स्थापित किये जायें। रोग से बचाव के लिये व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये एवं स्वाइन फ्लू के उपचार के लिये टेमीफ्लू दवाई शासकीय एवं निजी दोनों ही तरह के चिकित्सालय में पर्याप्त रूप से उपलब्ध कराई जाये। उक्त आशय के निर्देश कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने स्वाइन फ्लू के सम्बन्ध में आयोजित बैठक में चिकित्सा अधिकारियों को दिये। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.व्हीके गुप्ता, शासकीय एवं निजी चिकित्सालयों के चिकित्सक उपस्थित थे।

बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले में तहसील स्तर पर कंट्रोल रूम बनाये जायें एवं कंट्रोल रूम का नम्बर आमजन में प्रचारित किया जाये। कंट्रोल रूम चौबीस घंटे सातों दिन खुले रहने चाहिये, जिनमें शिफ्टवाइज अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाये। कंट्रोल के माध्यम से स्वाइन फ्लू से सम्बन्धित आवश्यक सलाह प्राप्त की जा सकेगी। शिविर में सर्दी, खांसी से पीड़ित व्यक्तियों का इलाज किया जायेगा तथा संभावित मरीजों के सेम्पल स्वाइन फ्लू की जांच के लिये भेजा जायेगा। विशेष एम्बुलेंस भी चलाई जाये, जो सिर्फ स्वाइन फ्लू के मरीजों के प्राथमिक उपचार एवं लाने ले जाने का कार्य करेगी।

कलेक्टर ने यह सुनिश्चित करने के लिये कहा कि स्वास्थ्य विभाग लोगों को इस बीमारी के बारे में अधिक से अधिक जागरूक करे। आंगनवाड़ी केन्द्रों पर आशा कार्यकर्ता को भी बीमारी के लक्षण, सावधानियां एवं बचाव के बारे में प्रशिक्षित किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि स्कूलों में भी जागरूकता अभियान चलाया जाये और स्वच्छता के महत्व के दृष्टिगत ‘हाथ धुलाई दिवस’ का आयोजन किया जाये।

स्वाइन फ्लू की रोकथाम, निदान एवं उपचार से सम्बन्धित दीवार लेखन किया जाये, रेलवे स्टेशन, बसस्टेण्ड, घाटों, प्रमुख चौराहों आदि सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग्स लगाये जायें, रेडियो के माध्यम से प्रचार किया जाये।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बैठक में बताया कि सभी अस्पताल व स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वाइन फ्लू के उपचार के लिये टेमीफ्लू दवाई नि:शुल्क उपलब्ध है। कलेक्टर ने आमजन से अपील की है कि इस दवाई का उपयोग चिकित्सक की सलाह पर ही किया जाये।

 

 

 

 

स्वाईन फ्लू – सावधानियां

बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि स्वाइन फ्लू से बचाव के लिये आमजन के लिये सलाह जारी की गई है। उन्होंने कहा कि आमजन से आग्रह किया गया है कि वे खांसते व छिंकते समय मुंह पर रूमाल रखें। संक्रमण होने पर एवं संक्रमण से बचाव हेतु भीड़भाड़ से दूर रहें। किसी वस्तु, व्यक्ति एवं स्वयं के चेहरे को छूने से पहले एवं बाद मे साबुन से हाथ धोएं। संक्रमित व्यक्ति से एक मीटर की दूरी बनायें।

स्वाईन फ्लू संक्रमण, नाक, मुंह एवं गले से आरंभ होकर फेफड़ो तक पहुंचकर जानलेवा हो जाता है। गले पर अर्थात सांस लेने में तकलीफ होने पर उपचार लेने पर ही व्यक्ति स्वस्थ्य रहेंगे। उन्होंने कहा कि स्वाइन फ्लू के लक्षण होने पर विलम्ब न किया जाये। उल्लेखनीय है कि जिले मे निम्नलिखित निकटतम चिकित्सा केन्द्रों पर जाकर चिकित्सकीय सलाह निःशुल्क प्राप्त की जा सकती है-

  1. सिविल अस्पताल, माधवनगर, घासमण्डी चौराहा, फ्रीगंज, उज्जैन – डॉ.विनोद गुप्ता मो.न. 9827016876
  2. आर.डी. गार्डी, मेडिकल कॉलेज, ग्राम सुरासा, आगररोड़, उज्जैन – डॉ.आर.के.दुबे मो. न. 9826243357
  3. सी.एच.एल. मेडिकल सेंटर, नानाखेड़ा, इन्दौररोड़, उज्जैन – डॉ.कुशाग्र भटनागर मो.न. 7748009269
  4. चेरिटेबल हॉस्पिटल, बुधवारिया, उज्जैन – डॉ.वन्दना केकड़े मो.न. 993345662
  5. जी.डी.बिड़ला हॉस्पिटल, महानंदा नगर, उज्जैन – डॉ.पी.सी. बुन्देला मो.न. 9826974764
  6. पुष्पामिशन हॉस्पिटल, देवासरोड़, उज्जैन – फादर एंटोनी पी.जे. मो.न. 9425380020
  7. पाटीदार हॉस्पिटल, फ्रीगंज, उज्जैन – अफसा मेमोन मो.न. 9993236001
  8. संजीवनी हॉस्पिटल, देवासरोड़, उज्जैन – डॉ.आर.बंसल, मो.न. 9926051444
  9. एस.एस.गुप्ता हॉस्पिटल, फ्रीगंज, उज्जैन – डॉ.जितेन्द्र राठौर मो.न. 8817871699

क्रमांक 3041                                       अनुभा सिंह (मो.नं.-8989904818)/जोशी