September 25, 2017

Latest News

युवतियों/बालिकाओं को पुलिस में भर्ती के लिये मिलेगा प्रशिक्षण, सशक्त वाहिनी अभियान का जिले में हुआ शुभारम्भ

उज्जैन 06 सितम्बर। पुलिस विभाग में युवतियों/बालिकाओं की नियुक्ति अधिक से अधिक हो तथा महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये सकारात्मक वातावरण का निर्माण किया जाये। यह विचार आज बुधवार को ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने युवतियों/बालिकाओं को पुलिस भर्ती में चयन के लिये प्रशिक्षण देने के लिये आयोजित सशक्त वाहिनी अभियान के उज्जैन में शुभारम्भ अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में व्यक्त किये। यह आयोजन महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा विक्रम कीर्ति मन्दिर में किया गया। मुख्य अतिथि ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन थे। कार्यक्रम में सिंहस्थ मेला प्राधिकरण अध्यक्ष श्री दिवाकर नातू, खाद्य उपभोक्ता आयोग के सदस्य श्री किशोर खंडेलवाल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री भरत पोरवाल, श्रीमती रजनी कोटवानी, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती शैली कनास, जिला कमांडेंट होमगार्ड श्री सुमत जैन, महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री साबिर अहमद सिद्धिकी उपस्थित थे।

ऊर्जा मंत्री ने छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि पुलिस विभाग में महिलाओं की संख्या कम है। अत: सशक्त वाहिनी अभियान के तहत उन्हें पुलिस में भर्ती होने के लिये प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण उपरान्त योग्यता के आधार पर ही चयन होगा। स्वयं पर भरोसा रखकर वे परीक्षा की तैयारी करें। उन्होंने व्यायाम के फायदे भी बताये। पुलिस विभाग में व्यायाम का अपना अलग महत्व है। पढ़ाई के साथ-साथ व्यायाम भी करना होगा। श्री दिवाकर नातू ने कहा कि महिलाओं की सामाजिक आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिये उनका सशक्तिकरण जरूरी है। सशक्त वाहिनी अभियान जैसे सुनहरे अवसर का उचित लाभ उठायें। दृढ़ निश्चय से सफलता अर्जित की जा सकती है। श्री किशोर खंडेलवाल ने कहा कि कड़ी मेहनत से सफलता अवश्य मिलेगी। जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री भरत पोरवाल ने भी महिला सशक्तिकरण पर जोर देते हुए इस आयोजन को सार्थक बताया।

जिला कमांडेंट होमगार्ड ने बताया कि सशक्त वाहिनी अभियान में 7 सितम्बर से पुलिस आरक्षक के पद पर चयन के लिये युवतियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा, जो डेढ़ माह तक चलेगा। प्लाटून कमांडर सुश्री रूबी यादव प्रशिक्षण अधिकारी नियुक्त की गई हैं। कलेक्टर के निर्देश पर होमगार्ड लाइन में प्रात: 6.30 से 8 बजे तक प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसमें दौड़, ऊंची कूद, अनुशासन आदि सीखाया जायेगा। शारीरिक पूर्वाभ्यास भी पढ़ाई के साथ-साथ युवतियों के लिये महत्वपूर्ण है। महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री सिद्धिकी ने बताया कि जिले के महाविद्यालयों से केवल 50 छात्राओं का चयन होना था, परन्तु बड़ी संख्या में छात्राओं की रूचि को देखते हुए 290 छात्राओं का पंजीकरण किया गया है। कालिदास कन्या महाविद्यालय से 100, माधव आर्ट्स एवं कॉमर्स महाविद्यालय से 40, कन्या महाविद्यालय दशहरा मैदान से 70, माधव विज्ञान महाविद्यालय से 80 छात्राओं का चयन प्रशिक्षण के लिये किया गया है। छात्राओं को सामान्य ज्ञान एवं एप्टीट्यूट विषयों की तैयारियों के लिये एक प्रायवेट कोचिंग संस्था के प्रतिनिधि श्री नईम खान प्रशिक्षण प्रदान करेंगे। कार्यक्रम में आभार कालिदास कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य श्री मोहित शर्मा ने माना।

क्रमांक 3056                                        अनुभा सिंह (मो.नं.-8989904818)/जोशी