November 21, 2017

Latest News

6500 से अधिक प्रकरणों का होगा निराकरण, नेशनल लोक अदालत का आयोजन 9 सितम्बर को

उज्जैन 08 सितम्बर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जिला एवं तहसील न्यायालयों के लिये 26 खण्डपीठों का गठन किया गया है, जिनके माध्यम से 9 सितम्बर शनिवार को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत में रखे गये 6500 से अधिक (प्रीलिटिगेशन+लम्बित) प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा।

नेशनल लोक अदालत के संयोजक श्री प्रदीप कुमार व्यास से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नईदिल्ली एवं मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देश अनुसार तथा श्री बीके श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में जिला मुख्यालय तथा जिले की पांचों तहसीलों में शनिवार को पूर्वाह्न 10.30 बजे नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा। इसमें आपराधिक, सिविल, विद्युत अधिनियम सम्बन्धी, श्रम, मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा, बैंक वसूली, प्रीलिटिगेशन एवं बैंकों के न्यायालय में लम्बित प्रकरण, धारा 138 निगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट के अन्तर्गत चैक बाउंस प्रकरण, कुटुम्ब न्यायालय, ग्राम न्यायालय, नगर पालिक निगम जल कर, सम्पत्ति कर के प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा।

बकाया सम्पत्ति कर व जल कर में दी जा रही छूट

नगर पालिक निगम के बकाया सम्पत्ति कर व जल कर के मामलों के निराकरण के लिये दी जा रही आकर्षक छूट का लाभ जिला मुख्यालय के समस्त छह झोन कार्यालयों में केवल नेशनल लोक अदालत में उपस्थित होकर लिया जा सकता है।

इसी प्रकार मप्रपक्षेविविकं के विद्युत चोरी व बकाया विद्युत देयक के मामलों में दी जा रही आकर्षक छूट का लाभ भी नेशनल लोक अदालत में आकर लिया जा सकता है।

क्रमांक 3084                                             अनुभा सिंह (मो.नं.-8989904818)/जोशी