July 18, 2018

Latest News

जनसम्पर्क के मूल कार्य में किसी भी तरह की कोताही न बरतें, अपने क्षेत्र में होने वाली सभी छोटी-बड़ी घटनाओं के प्रति जागरूक रहें –आयुक्त जनसम्पर्क, जनसम्पर्क विभाग की पहली वीसी आयोजित हुई

01

उज्जैन 13 दिसम्बर। बुधवार को आयुक्त जनसम्पर्क श्री पी.नरहरि द्वारा जनसम्पर्क विभाग की पहली वीडियो कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई। आयुक्त ने कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी संभागीय एवं जिला जनसम्पर्क अधिकारियों को निर्देश दिये कि आने वाले समय में बहुत सारी गतिविधियां आयोजित होनी है। अत: सभी अधिकारी जनसम्पर्क के मूल कार्य में किसी भी तरह की कोताही न बरतें। गौरतलब है कि जनसम्पर्क विभाग की यह पहली वीडियो कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई। बताया गया कि आने वाले समय में प्रत्येक माह के प्रथम गुरूवार को शाम 4.30 बजे से 5.30 बजे तक विभाग की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की जायेगी।

आयुक्त ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि आगामी 19 दिसम्बर से एकात्म यात्रा प्रारम्भ होने वाली है। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये। सभी संभागीय अधिकारी समय-समय पर मुख्यालय से सतत सम्पर्क में रहें। अपने क्षेत्र में होने वाली सभी छोटी-बड़ी घटनाओं के प्रति जागरूक रहें। शासन के विरूद्ध यदि कोई नकारात्मक समाचार प्रकाशित होता है तो तुरन्त मुख्यालय को अवगत करायें तथा खंडन जारी करें। आयुक्त ने समस्त अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि बिना सक्षम अनुमति के मुख्यालय न छोड़ें, अन्यथा सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि समाज के विभिन्न वर्ग विशेषकर किसान, शिक्षक, महिलाएं, अजा और अजजा वर्ग से सम्बन्धित गतिविधियों, ज्ञापन, धरना, विरोध प्रदर्शन आदि से सम्बन्धित समाचारों को आवश्यक रूप से मुख्यालय के संज्ञान में लायें। अपने-अपने कार्यक्षेत्र में सक्रिय रहें। समस्त प्रकार के शासकीय कव्हरेज प्राथमिकता से करें। आयुक्त ने बताया कि वर्तमान में प्रचार-प्रसार के तीन प्रमुख माध्यम हैं प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और सोशल मीडिया। अधिकारियों को तीनों मीडिया के प्रति सचेत रहना चाहिये। अपने क्षेत्र में क्या गतिविधियां चल रही हैं, इसकी पूरी खबर रखें। सोशल मीडिया जैसे- फेसबुक, वॉट्सअप और ट्विटर पर आवश्यक रूप से जुड़े रहें, क्योंकि आजकल सोशल मीडिया के माध्यम से क्षेत्र में होने वाली सभी छोटी-बड़ी घटनाओं का सरलता से पता चल जाता है। सभी अधिकारी वॉट्सअप ग्रुप से जुड़े रहें और नियमित रूप से उस पर आने वाले समाचारों पर अपनी नजर बनाये रखें।

आयुक्त ने समस्त अधिकारियों से कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से जो भी समाचार या जानकारी प्राप्त होती है, उसकी सत्यता को भी परखना बेहद जरूरी है। किसी भी समाचार की सत्यता और प्रामाणिकता की जांच-पड़ताल करना ही जनसम्पर्क अधिकारी का कार्य है। यह अवश्य देख लिया जाये कि मीडिया में प्रसारित हो रही घटना कहीं महज अफवाह तो नहीं है। बताया गया कि आने वाले समय में जनसम्पर्क विभाग द्वारा सोशल मीडिया से सम्बन्धित कार्यशाला भी आयोजित की जायेगी।

आयुक्त ने अधिकारियों से कहा कि प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया में यदि कोई भी नकारात्मक समाचार आते हैं, तो आवश्यक रूप से उसका परीक्षण करवा लें। कार्यालय द्वारा जो समाचार जारी किये जाते हैं, यदि उसमें कोई त्रुटि हो तो उसका सुधार आवश्यक रूप से करवा लें। गलत समाचार का खंडन शीघ्र-अतिशीघ्र किया जाना सुनिश्चित करें। शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करें।

आयुक्त ने भावान्तर भुगतान योजना पर समस्त अधिकारियों को विशेष रूप से फोकस करने के निर्देश दिये। उज्जैन में भावान्तर योजना में हुए उल्लेखनीय कार्य की आयुक्त जनसम्पर्क ने प्रशंसा की। उन्होंने निर्देश दिये कि आगामी 25 दिसम्बर को पूरे प्रदेश में भावान्तर भुगतान के अन्तर्गत एकसाथ एक ही समय पर व्यापक कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। इसका बड़े पैमाने पर प्रचार-प्रसार करवाना सुनिश्चित करें।

कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि विभिन्न विभागों से सम्बन्धित कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित अधिक से अधिक सफलता की कहानियां संचालनालय में समय-समय पर प्रेषित की जायें। इसके अतिरिक्त सफलता की कहानी के छोटे-छोटे वीडियो भी बनाकर भेजे जायें। सभी अधिकारी अपने क्षेत्रों में जिन लोगों ने खेल, साहित्य और अन्य क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य किया है और पुरस्कार प्राप्त किये हैं, उनसे मिलें और उनके आलेख भी संचालनालय प्रेषित करें। आयुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि समय-समय पर होने वाले मुख्यमंत्रीजी के भ्रमण एवं अन्य शासकीय कार्यक्रमों के समाचार और फोटो तुरन्त संचालनालय भेजे जायें। बताया गया कि आने वाले समय में विभिन्न जिलों में पत्रकारों के दल भेजे जायेंगे। उन्हें अपने-अपने क्षेत्र की सफलता की कहानी और सकारात्मक समाचारों से अवगत करायें।

आयुक्त ने अधिकारियों से कहा कि जिले में होने वाले मुख्यमंत्रीजी के प्रवास के दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस भी आयोजित करवायें। कार्यक्रम के एक दिवस पूर्व पत्रकार वार्ता के विषय में मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा करें और उन्हें अवगत करायें। अपने क्षेत्र के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों से सम्बन्धित समाचारों का भी संग्रहण किया जाये। विभाग के डिस्ट्रिक्ट न्यूज पोर्टल को अप-टू-डेट रखें। पोर्टल पर अपने क्षेत्र के दर्शनीय और पर्यटन स्थल को भी स्थान दें। पत्रकार कल्याण से सम्बन्धित समस्त प्रकरणों का निराकरण शीघ्र-अतिशीघ्र करें। स्थानीय पत्रकारों से समन्वय बनाकर चलें। इस बात का ध्यान दें कि पत्रकारों को उनके कर्तव्य के निर्वहन में किसी भी तरह की कोई रूकावट न आये।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान भोपाल एनआईसी कक्ष में संचालक जनसम्पर्क श्री अनिल माथुर, अपर संचालक श्री एलआर सिसौदिया, श्री सुरेश गुप्ता, श्री मंगलाप्रसाद मिश्रा, श्री एचएल चौधरी, संयुक्त संचालक श्री मनोज खरे और श्री जीएस वाधवा मौजूद थे।

संचालक श्री अनिल माथुर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी शासकीय समाचार स्थानीय अखबारों में प्रमुखता से प्रकाशित करवायें। श्री एचएल चौधरी ने कहा कि क्षेत्र में मुख्यमंत्री के प्रवास के पहले यदि कोई विशेष बात मुख्यालय के संज्ञान में लाना हो तो प्रवास के एक दिन पूर्व अवगत करायें। प्रवास के पश्चात समाचार-पत्रों में प्रकाशित कतरनें शीघ्र-अतिशीघ्र भिजवायें। अपने जिले के सभी माइलस्टोन (प्रमुख उपलब्धियां) तैयार करते रहें। श्री मनोज खरे ने कहा कि सफलता की कहानी में भाषा का स्तर और गुणवत्ता बहुत अच्छी होनी चाहिये। मप्र सन्देश के लिये समय-समय पर अपने जिले से आलेख, सफलता की कहानी और विशेष लेख भेजे जायें। सन्देश में प्रकाशित होने के लिये फोटोग्राफ्स अच्छी गुणवत्ता और हाई-रिसोल्यूशन के हों।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान आयुक्त जनसम्पर्क ने अधिकारियों से कार्य में आने वाली छोटी-बड़ी समस्याओं की भी जानकारी ली और आश्वस्त किया कि समस्याओं के निदान हेतु संचालनालय स्तर से आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। उज्जैन एनआईसी कक्ष में उप संचालक श्री पंकज मित्तल, सहायक जनसम्पर्क अधिकारी श्री हरिशंकर शर्मा, प्रचार सहायक श्री संतोष कुमार उज्जैनिया व श्री अनिकेत शर्मा, श्री संजय ललित, फोटोग्राफर श्री गय्यूर खान आदि मौजूद थे।                             (फोटो संलग्न)

क्रमांक 4031                                            अनिकेत शर्मा (मो.नं.-9806301789)/जोशी