February 24, 2018

Latest News

उज्जैन जिले में मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना के तहत सर्वाधिक ऑपरेशन, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई

 

उज्जैन 13 फरवरी। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अन्तर्गत विगत दिवस संभागीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक संयुक्त संचालक डॉ.रजनी डाबर की अध्यक्षता में हुई। बैठक में जानकारी दी गई कि उज्जैन संभाग में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत सर्वाधिक ऑपरेशन उज्जैन जिले में करवाये गये हैं। उज्ज्ैन में किये जा रहे उपचार व केन्द्र की कार्य प्रणाली पर संतोष व्यक्त किया गया।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.व्हीके गुप्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की मोबाइल हेल्थ टीम द्वारा शून्य से 18 वर्ष के बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है। स्वास्थ्य परीक्षण के आंकड़े चेतना एप में फिड किये जा रहे हैं। उज्जैन जिले में इस योजना के तहत 159 बच्चों के हृदय की शल्य चिकित्सा करवाई गई। इसके अन्तर्गत एक करोड़ 77 लाख रूपये का व्यय राज्य शासन की ओर से किया गया। योजना में हृदय रोग से ग्रसित बच्चों का शासन द्वारा निर्धारित पैकेज के अनुसार हृदय की 14 बीमारी के 42 प्रोसिजर कोड निर्धारित किये गये हैं। यदि किसी बच्चे को एक से अधिक हृदय रोग हैं तो प्रोसिजर कोड एवं निर्धारित मॉडल कॉस्टिंग की राशि संयुक्त रूप से उपचार के लिये सम्बन्धित अस्पताल को दी जाती है। बैठक में राज्य स्तर से उप संचालक डॉ.विनय दुबे, आरबीएसके मप्र के डॉ.राजेश त्रिपाठी, डॉ.सोहेल कुरेशी, डॉ.केके वास्कले, डॉ.माहेनूर खान मौजूद थे।

क्रमांक 0456                                                               एचएस शर्मा/जोशी