July 19, 2018

Latest News

प्रदेश के किसानों का सोयाबीन चीन को निर्यात किया जाये, मुख्यमंत्री श्री चौहान की प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात

ज्जैन 13 जुलाई।मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गत दिवस नई दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर चीन और अमेरिका के बीच व्यापार संबंधों में तनाव आने के कारण अमेरिका से आयातित सोयाबीन पर चीन द्वारा आयात शुल्क 25 प्रतिशत किये जाने के हवाले से कहा कि इसके कारण चीन में सोयाबीन की माँग की पूर्ति नहीं हो पा रही है। इस स्थिति का फायदा भारत ले सकता है। ऐसी स्थिति में भारत का सोयाबीन उत्पादन चीन में आयात किये जाने की संभावनाएँ बढ़ जाती हैं। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को बताया कि चीन में सोयाबीन की मांग 11 करोड़ 50 लाख मी. टन है जबकि चीन में सोयाबीन का उत्पादन केवल एक करोड़ 50 लाख मी. टन है। इस स्थिति को देखते हुए लगभग 10 करोड़ मी. टन चीन सोयाबीन आयात कर रहा है। इसमें से पचास प्रतिशत से अधिक सोयाबीन उत्तरी अमेरिका से आयात होता है।

श्री चौहान ने प्रधानमंत्री से कहा कि मध्यप्रदेश सोयाबीन प्रदेश होने के नाते चीन को सोयाबीन निर्यात करने की स्थिति में है। इससे प्रदेश के किसानों को सोयाबीन के न्यूनतम समर्थन मूल्य से भी अधिक भाव मिलेंगे और उनको अधिक मुनाफा होगा। उन्होंने बताया कि पहले चीन द्वारा सोया मील (डीओसी) पर पाँच प्रतिशत आयात शुल्क लगाया गया था जो वर्तमान में शून्य प्रतिशत है।

श्री चौहान ने आगे बताया कि भारत से निर्यात होने वाले सोयाबीन डी ओ सी में 46 प्रतिशत प्रोटीन है जो अन्य देशों के सोयाबीन डी ओ सी में 41-42 प्रतिशत प्रोटीन से तुलनात्मक रूप से अधिक है। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि वे इस संबंध में शीघ्र निर्णय लेकर प्रदेश ही नहीं वरन पूरे देश के सोयाबीन उत्पादक किसानों को सोयाबीन का उचित मूल्य दिलाने में सहायक बने।

श्री चौहान ने सोयाबीन निर्यात के संबंध में वाणिज्य मंत्री श्री सुरेश प्रभु, वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल, विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज से भी मुलाकात कर उन्हें स्थिति से अवगत कराया।

श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को बताया कि आगामी 14 जुलाई से प्रदेश में जन आशीर्वाद यात्रा शुरू की जायेगी जिसमें मुख्यमंत्री सप्ताह में चार दिन यात्रा में शामिल होंगे। यह यात्रा 25 सितम्बर 2018 को पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म-दिवस पर समाप्त होगी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से यात्रा के समापन में शामिल होने का आग्रह किया। यात्रा का शुभारम्भ पार्टी अध्यक्ष श्री अमित शाह 14 जुलाई को उज्जैन से करेंगे।

केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल से मुलाकात

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल से मुलाकात कर बताया कि प्रदेश में चना, मूंग और सरसों का बम्पर उत्पादन होने के कारण राज्य सरकार ने इसको किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद लिया है। राज्य सरकार ने इस पर होने वाले खर्चे का भुगतान अपने स्वयं के संसाधनों से किया है। राज्य सरकार को नाफेड ने अभी तक इसका भुगतान नहीं किया है। श्री चौहान ने नाफेड से शीघ्र भुगतान करवाने का आग्रह किया। श्री चौहान ने जीएसटी पर राज्य की हिस्सेदारी भी समय पर राज्य को न मिलने की जानकारी देते हुए राज्यांश का शीघ्र भुगतान करने का अनुरोध किया। साथ ही सहकारिता क्षेत्र से साख सीमा बढ़ाये जाने की भी मांग की।

केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा से मुलाकात

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा से मुलाकात कर बताया कि रतलाम, विदिशा और खंडवा में मेडिकल कॉलेज तैयार हैं परन्तु मेडिकल काउंसिल की आपत्ति के कारण लोकार्पण नहीं हो पा रहा है। उन्होंने आग्रह किया कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा लगायी गयी आपत्तियों का शीघ्र निराकरण कर कॉलेजों को शुरू किया जाय। इसके अलावा श्री चौहान ने बताया कि राज्य में 300 जागरूकता स्वास्थ्य केन्द्र अगस्त माह के अंत तक पूर्ण रूप से शुरू किये जायेंगे।

केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, नागर विमानन मंत्री श्री सुरेश प्रभु से मुलाकात

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, नागर विमानन मंत्री श्री सुरेश प्रभु से मुलाकात कर सोयाबीन के अलावा बासमती चावल, प्रदेश में लॉजिस्टिक हब खोलना, भोपाल से दिल्ली की एअर कनेक्टिविटी में सुधार और इंदौर में कस्टम क्लियरेंस सेंटर खोलने पर चर्चा की।

एम्स में भर्ती सागर की बिटिया के स्वास्थ्य की जानकारी डॉक्टरों से ली

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर से इलाज के लिये लायी गयी प्रदेश की बेटी के स्वास्थ्य के बारे में एम्स जाकर डॉक्टरों से जानकारी ली। श्री चौहान ने बेटी के परिवार जनों से भी मुलाकात की। डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। वह शीघ्र ही पूर्ण रूप से स्वस्थ हो जायेगी। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार स्वास्थ्य की ही नहीं उसकी पढ़ाई-लिखाई और आगे की भी पूरी जिम्मेदारी निभायेगी।

क्रमांक 2020B                                                                                                           एच.एस.शर्मा/ललित