September 21, 2018

Latest News

“सफलता की कहानी” मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के माध्यम से रोजगार से जुड़ी हेमलता

उज्जैन 16 जुलाई। देसाई नगर मक्सी रोड उज्जैन में रहने वाली हेमलता देवड़ा मात्र 5वी पास थीं और उनकी इच्छा रेडिमेड वस्त्र निर्माण इकाई स्थापित करने की थी। काफी दिनों तक वे इधर-उधर प्रयास करती रहीं कि कहीं से मदद मिल जाये। इसी तारतम्य में उनकी भेंट हाथकरघा विभाग के सहायक संचालक से हुई। अधिकारी द्वारा उनकी मदद करते हुए रेडिमेड वस्त्र इकाई का प्रकरण तैयार किया गया।

प्रकरण बैंक ऑफ इण्डिया फ्रीगंज शाखा में प्रस्तुत किया गया। कुछ समय बाद हेमलता को सूचना दी गई कि उनका प्रकरण मंजूर कर लिया गया है। प्रकरण स्वीकृत करने के साथ ही मार्जिन मनी के रूप में उन्हें 60 हजार रूपये की सहायता दी गई। हेमलता को कुल एक लाख 40 हजार रूपये का ऋण स्वीकृत किया गया। हेमलता ने सेवा उद्योग में लगने वाली सिलाई मशीन खरीदकर अपने घर में कामकाज शुरू कर दिया। रेडिमेड वस्त्र की बिक्री होने लगी और उनका कामकाज चल पड़ा। आज हेमलता को 10 हजार रूपये प्रतिमाह आय हो रही है। साथ ही वह अन्य दो महिलाओं को भी रोजगार दे रही हैं। बैंक ईएमआई देने के बाद भी उनका घर आसानी से चल रहा है। हेमलता मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की प्रशंसा करते हुए कहती हैं कि सरकार मदद नहीं करती तो वह अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो सकती थी।       (फोटो संलग्न)

क्रमांक 2029                                                                                                                          एचएस शर्मा/जोशी