September 21, 2018

Latest News

सेना के जवानों के कारण हम सब देश में सुरक्षित, हमारे देश की आन, बान, शान को सुरक्षित रखने में हम सबकी भागीदारी होना चाहिये –विधायक डॉ.यादव

उज्जैन 14 अगस्त। पूरे प्रदेश के साथ ही साथ उज्जैन में भी शहीद सम्मान दिवस मनाया गया। उज्जैन दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के विधायक डॉ.मोहन यादव ने शहीद सम्मान दिवस के अवसर पर वरिष्ठ नागरिक भवन मनोरंजन केन्द्र ‘आनन्द भवन’ वेद नगर में शहीद सम्मान कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे देश की सेना के जवानों के कारण हम सब देशवासी सुरक्षित एवं महफूज हैं। देश की आन, बान और शान को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये हम सबकी भागीदारी होना चाहिये। हमारे देश की सैन्य क्षमता बढ़ी ताकतवर है। हमारे देश के वीर जवान सीमा पर सुरक्षा के दौरान वीर गति को प्राप्त हो जाते है उन शहीदों को याद करने एवं उनके परिजनों को सम्मानित करने का राज्य सरकार के द्वारा जो निर्णय लिया गया है, वह सराहनीय है।
विधायक डॉ.मोहन यादव ने कहा कि हमारे देश की सुरक्षा के लिये सीमाओं पर सेना के जवान दिन-रात डटे रहते हैं और देश की सुरक्षा करते हैं। सुरक्षा के दौरान लड़ाई में शहीद हुए वीर सपूत हमारे देश की आन, बान, शान हैं और उन्हें याद करना हमारे लिये गौरव की बात है। हमारे देश की धरती वीरों की धरती है। यहां पर एक से एक वीर सपूत पैदा हुए हैं और देश की सुरक्षा में अपनी जान तक न्यौछावर की है। ऐसे वीर सपूत जवानों को याद करना है। डॉ.यादव ने कहा कि हमारा देश दुनिया में सिरमौर बनेगा और इसमें हम सबकी महती भूमिका होना आवश्यक है। शहीद सम्मान दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में विधायक डॉ.मोहन यादव एवं अन्य अतिथियों ने शहीद एसके गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर उन्हें श्रद्धांजली दी। डॉ.यादव आदि ने शहीद एसके गांधी के पिता श्री वीके गांधी को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा हस्ताक्षरित ‘शहीद सम्मान-पत्र’ और शाल, श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। अमर शहीद एसके गांधी के पिता श्री वीके गांधी को राष्ट्र के लिये आत्मोत्सर्ग करने, अभूतपूर्व वीरता और अदम्य साहस का प्रदर्शन करने के लिये अमर शहीद की पुण्य स्मृतियों को चिरकाल तक अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये शहीद सम्मान-पत्र भेंट कर सम्मानित किया।
इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण कार्यालय के श्री केआर चन्द्र ने अमर शहीद केप्टन एसके गांधी की बहादुरी की गाथा विस्तार से सुनाई। उन्होंने बताया कि दिसम्बर-2001 में भारत पाकिस्तान की सरहद पर बसा राजस्थान प्रान्त के बीकानेर जिले के बज्जू क्षेत्र का रणजीतपुरा ग्राम आर सेक्टर में बारूदी सुरंगें बिछाई गई थी। सुरंगों के मकड़ जाल में अचानक बम धमाके में 1 ग्रामीण युवती कृष्णाबाई जख्मी हो गई थी, जिसे बचाने में श्री एसके गांधी शहीद हो गये थे। अमर शहीदों की याद में शहीद सम्मान दिवस मनाने का राज्य सरकार का निर्णय का उन्होंने स्वागत करते हुए राज्य सरकार की सराहना कर हृदय से आभार प्रकट किया। कार्यक्रम का संचालन श्री प्रमोद ने किया और अन्त में आभार क्षेत्रीय पार्षद श्री संतोष व्यास ने माना। (फोटो संलग्न)
क्रमांक 2353 एसके उज्जैनिया/जोशी