October 21, 2018

Latest News

“विधानसभा निर्वाचन-2018” जिले में कुल 6222 नि:शक्त मतदाता, 80 वर्ष से अधिक आयु के 23044, नि:शक्त एवं वृद्धजन को मतदान केन्द्रों पर मतदान करने में किसी प्रकार का व्यवधान न हो –कलेक्टर

उज्जैन 12 अक्टूबर। नि:शक्त एवं वृद्धजनों को मतदान केन्द्रों पर मतदान करने में किसी प्रकार का व्यवधान न उत्पन्न हो, इस हेतु आयोग के निर्देश हैं। सुगम एवं समावेशी मतदान कराने के लिये जिला एवं जिले की समस्त विधानसभा क्षेत्रों में निगरानी समितियां गठित की गई हैं। निगरानी समितियों के सदस्यों की बैठक कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मनीष सिंह ने शुक्रवार 12 अक्टूबर को बृहस्पति भवन में सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि वृद्धजन एवं नि:शक्तजनों को मतदान करने में कोई व्यवधान न हो। सुगम एवं समावेशी मतदान के लिये मतदान केन्द्रों पर रैम्प एवं व्हील चेयर की शत-प्रतिशत व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। बैठक में बताया गया कि जिले में 18 वर्ष से अधिक आयु के 6222 नि:शक्त और 80 वर्ष से अधिक आयु के 23044 वरिष्ठ मतदाता हैं।
मतदाताओं को प्रेरित करने हेतु नि:शक्तजनों पर आधारित वीडियो फिल्म लॉन्च
‘नि:शक्तजन भी पीछे नहीं हैं’, ‘वे भी अपना मत का उपयोग करेंगे’, ‘नि:शक्तजन कहते हैं हममें भी मतदान करने का दम है’। इस प्रकार के नि:शक्तजनों के अलग-अलग प्रकार के प्रेरित करने वाले उत्प्रेरक विचारों की वीडियो फिल्म बनाई गई है। बैठक में कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने इस फिल्म को लॉन्च किया। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि नि:शक्त एवं वृद्धजनों को मतदान के दिन मतदान करने में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न न हो। उनकी मदद के लिये शासकीय अमले के साथ-साथ मदद करने वाली स्वयंसेवी संस्थाओं की बैठक लेकर आगे आने का अनुरोध किया जाये। नि:शक्त एवं वृद्धजनों का शत-प्रतिशत मतदान हो यह सुनिश्चित किया जाये।

18 वर्ष से अधिक आयु के 1525 दिव्यांग मतदाता महिदपुर विधानसभा में
और सबसे कम नागदा-खाचरौद विधानसभा में 977
बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री संदीप जीआर ने संयुक्त संचालक शिक्षा श्री संजय गोयल को निर्देश दिये कि नि:शक्त एवं वृद्धजनों को मतदान वाले दिन मतदान में सुगमता के लिये छात्रों, एनसीसी एवं एनएसएस के वॉलेंटियरों की भी मदद ली जाये। उन्होंने बताया कि मतदान के दिन नि:शक्त एवं वृद्धजन की सुगमता के लिये स्पेशल रूप से प्रेक्षक आ सकते हैं। बैठक में बताया गया कि विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-212 नागदा-खाचरौद में 18 वर्ष से अधिक आयु के 977, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-213 महिदपुर में 1525, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-214 तराना में 1449, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-215 घट्टिया में 698, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-216 उज्जैन उत्तर में 358, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-217 उज्जैन दक्षिण में 613, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-218 बड़नगर में 602 नि:शक्त मतदाता हैं।
80 वर्ष से अधिक आयु के 3959 वरिष्ठजन तराना विधानसभा में
सबसे कम 2349 नागदा-खाचरौद विधानसभा में
विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-212 नागदा-खाचरौद में 80 वर्ष से अधिक आयु के 2349, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-213 महिदपुर में 2895, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-214 तराना में 3959, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-215 घट्टिया में 3766, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-216 उज्जैन उत्तर में 3151, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-217 उज्जैन दक्षिण में 3678, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-218 बड़नगर में 3246 वृद्धजन मतदाता हैं। उल्लेखनीय है कि 80 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठजन मतदाताओं में जिले में 8309 पुरूष मतदाता और 14735 महिला मतदाता हैं।
बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री आरपी वर्मा, संयुक्त संचालक शिक्षा श्री संजय गोयल, सामाजिक न्याय विभाग के संयुक्त संचालक श्री सीएल पंथारी, सहायक संचालक श्री आरके जोशी, नागदा के स्नेह संस्था के श्री पंकज मारू, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री साबिर अहमद सिद्धिकी, श्री सुबोध जोशी, नगर निगम उपायुक्त श्री मनोज कुमार पाठक, मनोविकास के फादर टॉम जॉर्ज, जिले के समस्त जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, शासकीय, अशासकीय संस्थाओं के पदाधिकारी आदि विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।
क्रमांक 2821 एसके उज्जैनिया/जोशी