May 26, 2018

Latest News

परिवर्तन प्रकृति का नियम है, जिन्दगी को हंसी-खुशी से गुजारें –संभागायुक्त डॉ.पस्तोर, ‘आभार’ कार्यक्रम आयोजित

AABHAR-1AABHAR-2

उज्जैन 26 सितम्बर। संभागायुक्त डॉ.रवीन्द्र पस्तोर ने कहा है कि सेवा निवृत्ति जिन्दगी का अन्त नहीं है। यह एक काम को छोड़कर दूसरे काम को हाथ में लेना है। बुढ़ापा या मृत्यु बताती है कि आपने जीवन कैसे जिया। परिवर्तन प्रकृति का नियम है, जिन्दगी को हंसी-खुशी से गुजारें। चौथेपन में मौजमजा करें और शेष जिन्दगी को खुश रखें। यह बात आज डॉ.पस्तोर ने मेला कार्यालय में इस माह सेवा निवृत्त हो रहे 32 शासकीय सेवकों को बिदाई देते हुए कार्यक्रम ‘आभार’ में कही। उन्होंने सेवा निवृत्त हुए शासकीय सेवकों को शाल-श्रीफल से सम्मानित किया एवं उनके स्वत्वों से सम्बन्धित दस्तावेज उन्हें सौंपे।

कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने सेवा निवृत्त हो रहे शासकीय सेवकों को बधाई देते हुए कहा कि आज से वे वरिष्ठ नागरिक बन रहे हैं। उन्होंने सभी शासकीय सेवकों से वरिष्ठ नागरिकों के कर्त्तव्यों का निर्वहन करते हुए स्वयं को खुशहाल बनाने का आव्हान किया। कलेक्टर ने कहा कि आगामी एक अक्टूबर को अन्तर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस पर्यटन विकास निगम की होटल उज्जयिनी में मनाया जा रहा है। इसके पूर्व 30 सितम्बर को खेलकूद का आयोजन माधव क्लब में रखा गया है। 30 अक्टूबर को वृहद स्वास्थ्य शिविर भी सिविल अस्पताल में आयोजित किया जायेगा। प्रत्येक जनपद मुख्यालय एवं नगर परिषद मुख्यालय पर वृद्धजनों के लिये एक डे-केयर सेन्टर भी आरम्भ किया जायेगा। इसे ‘हमारा घर’ नाम दिया गया है। उन्होंने इसका लाभ लेने का आग्रह सभी सेवा निवृत्त हो रहे शासकीय सेवकों से किया।

शाल एवं श्रीफल से सम्मानित किया

प्रतिमाह सेवा निवृत्त हो रहे शासकीयकर्मियों को मान-सम्मान के साथ विदा करने हेतु ‘आभार’ कार्यक्रम आरम्भ किया गया है। यह कार्यक्रम प्रत्येक माह के अन्तिम सोमवार को आयोजित होगा।

संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा श्री जे.एस.भदौरिया ने बताया कि इस माह सेवा निवृत्त हो रहे 32 शासकीय सेवकों में से 29 को 26 सितम्बर को पीपीओ सौंप दिये गये हैं, तीन कर्मचारी ऐसे हैं, जिनकी वसूली की औपचारिकताएं पूर्ण करना हैं, उन्हें भी 30 सितम्बर तक पीपीओ सौंप दिये जायेंगे। जिन शासकीय सेवकों को शाल, श्रीफल एवं पीपीओ आदि सौंपे गये, उनमें सर्वश्री ओमप्रकाश नामदेव, प्रहलाद टिपाणिया, प्रहलादसिंह कुशवाह, मोहनलाल परिहार, सुरेशचन्द्र दुबे, मोहनलाल मालवीय, छन्नूजी, रमेश वर्मा, रामराजा, भगवानदास वर्मा, आनंदीलाल सूर्यवंशी, इन्द्रकुमार, नन्दाजी, अनिल कुमार, हरिओम कुमावत, विष्णुसिंह राठौर, सुश्री सुशीला शैलबाला एवं आशा शामिल हैं।

-हरिशंकर शर्मा (मो.नं.-9424863313) (फोटो संलग्न)

क्रमांक 250-3098 जोशी