May 24, 2018

Latest News

समग्र सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना की दर में वृद्धि, नि:शक्त पेंशन अब ‘दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहन सहायता’ के नाम से मिलेगी

उज्जैन 28 सितम्बर। मंत्री परिषद द्वारा लिये गये निर्णय के परिप्रेक्ष्य में समग्र सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के पात्रता के मापदण्डों एवं दरों में सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा परिवर्तन किया गया है। इस योजना के तहत समस्त वृद्धजन, विधवा, परित्यक्ता एवं नि:शक्त हितग्राहियों को 150 रूपये प्रतिमाह की दर से दी जाने वाली पेंशन की दरों को पुनरीक्षित करने के फलस्वरूप अब इन्हें 300 रूपये प्रतिमाह की दर से राशि मिलेगी। यह दर सितम्बर-2016 से प्रभावशील होगी, जिसका लाभ हितग्राहियों को माह अक्टूबर-2016 से प्राप्त होगा। नि:शक्त पेंशन अब दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहन सहायता राशि के नाम से दी जायेगी।

कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राज्य शासन ने इस सम्बन्ध में आदेश जारी कर दिये हैं। आदेश के मुताबिक छह वर्ष से अधिक तथा 18 वर्ष की आयु के दिव्यांग, जिनकी नि:शक्तता 40 प्रतिशत या उससे अधिक है और जो गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करते हैं, उन्हें दी जाने वाली पेंशन अब नये नाम दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहन सहायता राशि के नाम से जानी जायेगी। इसी तरह 18 से 59 वर्ष आयु के गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले, जिनकी नि:शक्तता 40 प्रतिशत या उससे अधिक है, को लाभ मिलेगा, परन्तु इस आयु वर्ग में 40 प्रतिशत से अधिक किन्तु 80 प्रतिशत से कम नि:शक्तता धारण करने वाले नि:शक्तजन, जो भारत सरकार की इंदिरा गांधी राष्ट्रीय नि:शक्त पेंशन योजना शामिल नहीं है। मान्यता प्राप्त वृद्धाश्रमों में निवासरत अन्त:वासियों को पेंशन की राशि उसी नगरीय/ग्रामीण निकाय द्वारा स्वीकृत की जायेगी, जिसकी सीमा के भीतर वृद्धाश्रम संचालित है और वह अन्य किसी भी प्रकार की पेंशन का लाभ प्राप्त नहीं कर रहे हों। वृद्धाश्रमों में निवासरत अन्त:वासियों का पंजीयन सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा किये जाने के उपरान्त भी सम्बन्धित निकायों द्वारा पेंशन स्वीकृति की कार्यवाही की जायेगी।

इसी प्रकार मंत्री परिषद के द्वारा गत दिवस लिये गये निर्णय के अनुसार इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना के ऐसे हितग्राही, जो पात्रता के मापदण्डों में अर्थात 60 से 79 वर्ष आयु के हैं, जिनको भारत सरकार द्वारा 200 रूपये की दर से पेंशन प्रदाय की जा रही है, ऐसे हितग्राहियों को अब मध्य प्रदेश शासन 100 रूपये का राज्यांश शामिल कर हितग्राही को अब 300 रूपये प्रतिमाह की पेंशन प्रदाय की जायेगी। पेंशन की पुनरीक्षित दर सितम्बर-2016 से प्रभावशील होगी, जिसका वास्तविक लाभ हितग्राही को अक्टूबर माह से प्राप्त होगा।

-संतोष कुमार उज्जैनिया (मो.नं.-9425379653)

क्रमांक 273-3121 जोशी