August 17, 2018

Latest News

नागदा में मॉडल डे-केयर सेन्टर ‘आनन्द घर’ प्रारम्भ, मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत ने फीता काटकर किया उद्घाटन

उज्जैन 02 अक्टूबर। नागदा में उज्जैन जिले का मॉडल डे-केयर सेन्टर आनन्द घर के नाम से बुजुर्गों के लिये प्रारम्भ किया गया। डे-केयर सेन्टर में 60 वर्ष से अधिक उम्र के वृद्धजन सुबह 10 से रात्रि 8 बजे तक अपना समय व्यतीत कर सकेंगे। यहां पर उनकी देखभाल के लिये नगर पालिका के कर्मचारी नियुक्त किये गये हैं। साथ ही बुजुर्गों के मनोजरंजन के लिये कैरम, चेस, लाईब्रेरी की व्यवस्था की गई है। समय-समय पर चाय-नाश्ते की व्यवस्था भी नगर पालिका द्वारा की जायेगी, इसके लिये केन्टीन बनाया गया है। डे-केयर के ओपन स्पेस में बुजुर्गों के हल्के व्यायाम हेतु जिम के उपकरण लगाये गये हैं। मात्र 10 दिनों की अवधि में इस डे-केयर सेन्टर का निर्माण नौ लाख रूपये की लागत से नगर पालिका द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से किया गया है। डे-केयर सेन्टर को पूर्णत: वातानुकूलित निर्मित किया गया है।

डे-केयर सेन्टर ‘आनन्द घर’ का उद्घाटन फीता काटकर केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत ने किया। इस अवसर पर नागदा विधायक श्री दिलीपसिंह शेखावत, कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे, नगर पालिका अध्यक्ष श्री अशोक मालवीय, श्री श्याम बंसल, उपाध्यक्ष श्री सज्जनसिंह शेखावत, पूर्व मंडी उपाध्यक्ष श्री महेश व्यास, धर्मेन्द्र जायसवाल, एसडीएम श्री रावत सहित गणमान्य अतिथि मौजूद थे। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री श्री गेहलोत ने कहा कि नागदा में ‘आनन्द घर’ की अच्छी शुरूआत हुई है। बुजुर्ग इस केन्द्र में आयें और पारिवारिक वातावरण में अपना समय व्यतीत करें। उन्होंने कलेक्टर को इस नवाचार के लिये बधाई दी और बताया कि कलेक्टर ने अपने पूर्व जिले में भी दिव्यांगों के लिये बहुत अच्छा काम किया है और इसके लिये उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत भी किया गया है। मंत्री ने कहा कि अभी कुछ ही समय पूर्व सितम्बर माह में उनके विभाग ने दिव्यांगों को उपकरण वितरण करने का गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड बनाया है।

कार्यक्रम में विधायक श्री दिलीपसिंह शेखावत ने कहा कि जिस सजगता के साथ कम समय में नया डे-केयर सेन्टर बनाया गया है इसके लिये नगर पालिका एवं सभी अधिकारी बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री के सहयोग से नागदा नगर पालिका सम्पूर्ण प्रदेश में अग्रणी बन गई है। विधायक ने कहा कि यहां के अस्पताल में डिजिटल एक्सरे मशीन और डायलीसिस मशीन शीघ्र ही प्रारम्भ होने वाली है।

कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने कहा कि यह डे-केयर सेन्टर जिले के अन्य स्थानों पर बनने वाले इसी तरह के केन्द्रों के लिये मॉडल होगा। अन्य नगर पालिकाओं के सीएमओ व एसडीएम यहां आकर अपने यहां भी इसी तरह का आनन्द घर निर्मित करेंगे। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिक खुद को अकेला न समझें और अपना खाली समय यहां आकर व्यतीत करें। कलेक्टर ने कहा कि डे केयर सेन्टर के लिये निराश्रित निधि से नौ लाख रूपये की स्वीकृति दी गई है। उन्होंने कहा कि इसके संचालन में भी जिला प्रशासन द्वारा सहयोग किया जायेगा। कलेक्टर ने कहा कि आने वाले समय में बुजर्गों के यहां लाने और छोड़ने (पिक एण्ड ड्रॉप) की सुविधा भी शुरू की जायेगी। कलेक्टर ने बताया कि बुजुर्गों को मिलने वाली पेंशन के लिये सभी बुजुर्गों के खाते राष्ट्रीयकृत बैंक में खोले जा रहे हैं तथा शीघ्र ही नि:शक्त हो चुके वृद्धों को उनके घर जाकर पेंशन दी जा सके, ऐसी व्यवस्था की जा रही है।

कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन नगर पालिका अध्यक्ष श्री अशोक मालवीय ने किया एवं संचालन नगर पालिका उपाध्यक्ष श्री सज्जनसिंह शेखावत ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में बुजुर्गजन एवं गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

-हरिशंकर शर्मा (मो.नं.-9424863313)

क्रमांक 018-3168 जोशी