February 20, 2018

Latest News

आगामी चार माह में खुले में शौच से मुक्त होगा उज्जैन जिला, अन्तर्विभागीय बैठक में कलेक्टर ने दिये दिशा-निर्देश

20161003_121809

उज्जैन 03 अक्टूबर। आगामी चार माह में उज्जैन जिला खुले में शौच से मुक्त होगा। इस कार्यक्रम को युद्धस्तर पर चलाने का निर्णय लेते हुए कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने जिला अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिये। अन्तर्विभागीय समन्वय बैठक में इस सम्बन्ध में चर्चा करते हुए कलेक्टर ने जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती रूचिका चौहान एवं नगर निगम आयुक्त श्री आशीष सिंह को अभियान की कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये हैं।

कलेक्टर ने बताया कि जिले को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त) करने के लिये 10 अक्टूबर को जिले के सभी राजपत्रित अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित कर कार्यक्रम की रूपरेखा समझाई जायेगी। कलेक्टर ने इस अभियान से सरपंच, सचिवों एवं रोजगार सहायकों को जोड़ने के लिये 6 अक्टूबर को जिला स्तरीय बैठक करने को कहा है।

कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने अन्तर्विभागीय बैठक में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, मुख्यमंत्री की घोषणाएं तथा समयावधि पत्रों के निराकरण की समीक्षा की। उन्होंने सभी प्रकरणों की विभाग स्तर पर समीक्षा कर इन्हें निराकृत करने को कहा है। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री की ऐसी घोषणाओं को लम्बित सूची से हटाने को कहा है, जिनमें कार्य पूर्ण हो गया है किन्तु केवल पूर्णता प्रमाण-पत्र के कारण लम्बित हैं। ऐसे मामलों में पूर्णता प्रमाण-पत्र एक सप्ताह में जारी करने के निर्देश दिये हैं।

नि:शक्त बुजुर्गों को घर पहुंच पेंशन का पायलट प्रोजेक्ट

कलेक्टर ने बैंकिंग करेस्पोंडेंट के माध्यम से नि:शक्त बुजुर्गों को उनके घरों में पेंशन पहुंचाने के लिये उज्जैन एवं नागदा नगर के एक-एक वार्ड में पायलट प्रोजेक्ट प्रारम्भ करने के निर्देश दिये हैं।

डॉक्टरों के अवकाश अब कलेक्टर स्तर से स्वीकृत होंगे

कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि बिना पूर्व अनुमति के अवकाश पर जाने वाले डॉक्टरों पर प्रतिबंध लगाया जाये। उन्होंने कहा कि मेडिकल ऑफिसर स्तर के डॉक्टरों के अवकाश आवेदन संयुक्त कलेक्टर तथा उससे ऊपर के प्रथम श्रेणी स्तर के चिकित्सकों के अवकाश आवेदन कलेक्टर को पुटअप किये जायें। उन्होंने कहा कि भविष्य में बिना बताये अवकाश पर जाने वाले डॉक्टर निलम्बित होंगे।

मलेरिया अधिकारी को कारण बताओ सूचना-पत्र देने के निर्देश

कलेक्टर ने डेंगू एवं मलेरिया की रोकथाम में ठीक से काम नहीं करने पर मलेरिया अधिकारी के विरूद्ध कारण बताओ सूचना-पत्र जारी करने को कहा है। कलेक्टर ने इसी के साथ जनसुनवाई की नई व्यवस्था से अधिकारियों को अवगत कराते हुए कहा कि महत्वपूर्ण 12 विभागों के अधिकारी मंगलवार की जनसुनवाई में बृहस्पति भवन में बैठ, शेष अन्य विभागों के अधिकारी अपने-अपने कार्यालय में जनसुनवाई करें।

कलेक्टर ने अधिकारियों को जनसुनवाई से सम्बन्धित जवाब ‘उत्तरा पोर्टल’ पर अपलोड करने के निर्देश देते हुए जिला सूचना विज्ञान अधिकारी श्री धर्मेन्द्र यादव से सम्पर्क में रहने को कहा। बैठक में अपर कलेक्टर्स, एडीएम, एसडीएम एवं सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

-हरिशंकर शर्मा (मो.नं.-9424863313)

क्रमांक 020-3170 जोशी