February 20, 2018

Latest News

जनसुनवाई में लगभग डेढ़ सौ आवेदनों के निराकरण के निर्देश अधिकारियों को दिये गये

JANSUNVAI-1JANSUNVAI-2JANSUNVAI-3

उज्जैन 04 अक्टूबर। मंगलवार को बृहस्पति भवन सभाकक्ष में जिला स्तरीय जनसुनवाई आयोजित की गई। लगभग डेढ़ सौ आवेदनों के निराकरण के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये गये। अपर कलेक्टर श्री नरेन्द्र सूर्यवंशी, श्री अवधेश शर्मा तथा संयुक्त कलेक्टर श्री अभिषेक दुबे ने आवेदनों पर विचार करते हुए सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निराकरण के निर्देश जारी किये।

जनसुनवाई में बीपीएल सूची में नाम सम्मिलित करवाने के लिये आये आवेदनों की जांच के लिये आवेदक से सम्बन्धित क्षेत्र के एसडीएम को निर्देश दिये गये। आवास के लिये आये आवेदन जिला पंचायत के अतिरिक्त सीईओ द्वारा प्राप्त किये जाकर उनको निराकरण के लिये अग्रेषित किया गया। उज्जैन के मनोहरराव सांवरकर द्वारा आवेदन में बताया गया कि आजाद प्रिंटिंग प्रेस द्वारा उसको नौकरी से बाहर करते हुए वेतन नहीं दिया गया है। इस प्रकरण में श्रम विभाग को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये गये। उज्जैन की फीरोजबी ने बीपीएल राशन कार्ड की मांग की, सामाजिक न्याय विभाग को आवश्यक जांच-पड़ताल एवं कार्यवाही के निर्देश दिये गये। ग्राम भावरी के राजेश ने शासकीय भूमि पर शौचालय निर्माण की अनुमति की मांग की। उनको अपनी निजी भूमि पर ही शौचालय निर्माण की समझाईश दी गई। उज्जैन के भूपेन्द्र सोनी ने बताया कि सिंहस्थ में उनके पांडाल को नुकसान पहुंचा, इसका मुआवजा नहीं मिला। एसडीएम उज्जैन को इस प्रकरण में जांच-पड़ताल कर कार्यवाही के निर्देश दिये गये।

जनसुनवाई में आये सेवा निवृत्त शिक्षक रतनलाल राठौर ने आवेदन में बताया कि चार माह पश्चात भी उनको ग्रेच्युटी एवं पेंशन लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है। शिक्षा विभाग को इस प्रकरण में चार दिवस में कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। बड़नगर क्षेत्र के नि:शक्त रमेश के आवेदन पर उनको नि:शक्त पेंशन के लिये प्रमाण-पत्र उपलब्ध करवाने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिये गये। इसके साथ ही नि:शक्त को बीपीएल कार्ड भी बनवाकर दिया जायेगा। उज्जैन में रहकर पीजीडीसीए कोर्स कर रहे सुमराखेड़ा के नि:शक्त सुरेश ने फीस माफ करने के लिये आवेदन दिया। अपर कलेक्टर द्वारा शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्य को इस सम्बन्ध में विचार करके कार्यवाही के निर्देश दिये। उज्जैन में अकेली रह रही राजवंताबाई का आवेदन बीपीएल राशन कार्ड बनाने के लिये प्राप्त किया गया। उज्जैन के फ्रीगंज स्थित होटल मालिक के सम्बन्ध में आवेदकों नरेन्द्र अग्रवाल तथा अरूण राजपूत ने शिकायत करते हुए कहा कि वे काम छोड़कर जाना चाहते हैं, परन्तु होटल मालिक उनकी बकाया राशि नहीं दे रहा है। कंचनपुरा उज्जैन के आवेदक रमेश जारवाल ने आवेदन में बताया कि काम के दौरान मचान से गिर जाने पर उसको गंभीर चोंट लगी थी, परन्तु श्रीनिवास कंपनी नीमनवासा द्वारा उसको इलाज खर्च नहीं दिया गया, तीन माह का वेतन भी लेना बाकी है। साथ ही काम से भी निकाला गया है।

जनसुनवाई में सुदामा नगर के प्रकाश राज ने प्रिंटिंग प्रेस पर कार्य करने की जानकारी देते हुए कहा कि उसके वेतन की 14 हजार रूपये से ज्यादा राशि बकाया है, जो उसे नहीं दी जा रही है। इन सभी प्रकरणों में श्रम विभाग को कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

मां द्वारा अपनी बेटी को वापस दिलवाने की मांग की गई

जनसुनवाई में इन्दौर से आई जेबुन्नीसा पारेख ने आवेदन में कहा कि उसके पति की मृत्यु हो चुकी है। उसके जेठ, जेठानी, ननद जो कि भाटपचलाना क्षेत्र में रहते हैं, उसकी बेटी रज़िया पारेख को जबरन अपने पास रखे हुए हैं तथा उसे उसकी बेटी को वापस नहीं दे रहे हैं। पूर्व समय में उसका पति बेटी को जबरन अपने साथ ले गया था, परन्तु पति की मृत्यु के पश्चात बेटी जेठ, जेठानी के पास रह रही है, जो उसे वापस चाहिये। इस प्रकरण में पुलिस विभाग को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये गये।

-शकील खान (मो.नं.-9826632452) (फोटो संलग्न)

क्रमांक 035-3185 जोशी