February 24, 2018

Latest News

अब नहीं बिक सकेंगे चायनीय व अन्य आयातित फटाके, कलेक्टर ने प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों को सख्त कार्रवाई के दिए निर्देश

उज्जैन, 5 अक्टूबर। उज्जैन जिले में कोई भी व्यक्ति अब चायनीय या अन्य देशों से आयातित फटाके खरीद व बेच नहीं सकेगा। शासन द्वारा यह तथ्य स्पष्ट किए जाने के बाद कि विदेशी फटाखों के आयात के लिए शासन की ओर से कोई लाइसेंसे जारी नहीं किया गया है, कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री संकेत भोंडवे ने इस संबंध में आदेश जारी कर जिले के समस्त अनुविभागीय दंडाधिकारी, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस, सिटी मजिस्ट्रेट एवं सभी नगर पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि वे आयातित फटाखों की बिक्री रोकने के लिए सघन निरीक्षण करें एवं ऐसा पाए जाने पर सख्त कार्रवाई करें। दीपावली का पर्व निकट होने से कलेक्टर ने मुस्तैदी के साथ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

केवल अधिकृत लाइसेंसधारी से खरीद सकते हैं

कलेक्टर ने जारी आदेश में कहा है कि विस्फोटक अधिनियम 2008 के अनुसार फटाके केवल अधिकृत लाइसेंसधारी से ही क्रय किए जा सकते हैं। यदि कोई व्यक्ति बिना लाइसेंस के फटाके बेचता है तो उसके विरूद्ध विस्फोटक अधिनियम के नियम 127-128 दण्डात्मक कार्रवाई की जाएगी।

बड़ी मात्रा में देश में आए विदेशी फटाखे

भारत सरकार के उप मुख्य नियंत्रक पेटोलियम एवं विस्फोटक सुरक्षा संगठन, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने जिला दंडाधिकारी उज्जैन एवं पुलिस अधीक्षक उज्जैन को पत्र लिखकर बताया है कि झूठी उद्घोषणा के आधार पर भारत में बड़ी मात्रा में विदेशी फटाखे आने की खबर है,‍ जिन्हें दीपावली के अवसर पर खेरची व्यापारियों के माध्यम से देशभर में बेचे जाने की योजना है।

विदेशी फटाखों में खतरनाक कैमिकल्स

उक्त पत्र में बताया गया है कि विदेशी फटाखों में खतरनाक कैमिकल्य होने की सूचना है, जो न केवल खतरनाक हैं अपितु इनसे निकलने वाला धुआं भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इन फटाखों में प्रयुक्त सामग्री भारतीय फटाखा निर्माण के मानकों के अनुरूप नहीं है। भारत में फटाखे अधिकतर बच्चे चलाते हैं, इस कारण इन्हें अत्यधिक सुरक्षित एवं हानिरहित बनाया जाता है। विदेशी फटाखों का उपयोग अत्यंत हानिकारक है। –पंकज मित्तल (मो.नं.-9301209255)

क्रमांक 046-3196 जोशी