February 24, 2018

Latest News

विद्याध्ययन करने से ही जीवन सार्थक होगा, जीवनपर्यन्त शिक्षा ग्रहण कर दूसरों को भी शिक्षा देना चाहिये, केन्द्रीय मंत्री श्री गेहलोत ने 90 लाख से अधिक के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया

LOKARPAN-BHOOMIPOOJAN-1LOKARPAN-BHOOMIPOOJAN-2LOKARPAN-BHOOMIPOOJAN-3LOKARPAN-BHOOMIPOOJAN-4

उज्जैन 08 अक्टूबर। भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत ने शनिवार 8 अक्टूबर को नागदा में 90 लाख रूपये के विभिन्न निर्माण कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। नागदा के शासकीय बालक प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-2 के नवीन भवन का लोकार्पण एवं 28 लाख रूपये की लागत से बनने वाले पांच कक्षों का भूमिपूजन कार्यक्रम के अवसर पर केन्द्रीय मंत्री श्री गेहलोत ने कहा कि विद्याध्ययन करने से ही हमारा जीवन सार्थक होता है। जीवनपर्यन्त शिक्षा ग्रहण कर दूसरों को भी शिक्षा देने का पुण्यकार्य करना चाहिये। विद्यार्थी अपने जीवन में शिक्षा ग्रहण कर अपना और अपने परिवार आदि का नाम रोशन करें।

केन्द्रीय मंत्री श्री गेहलोत ने कहा कि पहले से अब शासकीय शालाओं में बेहतर रिजल्ट आ रहे हैं। कहीं-कहीं विद्यालयों में शत-प्रतिशत रिजल्ट आ रहा है। शिक्षा की गुणवत्ता में बहुत कुछ सुधार हुआ है। उन्होंने छात्रों से कहा कि वह अपने छात्र जीवन में अधिक से अधिक शिक्षा ग्रहण कर अपने जीवन में निपुणता लायें। भारत सरकार एवं राज्य सरकार शिक्षा के क्षेत्र में निरन्तर गुणवत्ता के कार्य कर रही है। महिला एवं पुरूष का संतुलन बना रहे, इसके लिये बेटी बचाओ अभियान चलाया गया है। इस अभियान से आज हमारी बेटियों को शिक्षा के क्षेत्र में महत्ता दी जाकर उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में हर प्रकार से आगे बढ़ने के लिये सरकारें मदद कर रही है। श्री गेहलोत ने कहा कि बेटी का महत्व प्रत्येक व्यक्ति समझे, बेटी के प्रति न्याय हो, उनका सम्मान, आदर किया जाये। अनेक बेटियों ने देश में नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश एवं देश में सरकारें निरन्तर विकास के कार्य कर रही है। विकास की कड़ी में नागदा में शासकीय बालक प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-2 के नवीन भवन का लोकार्पण किया गया है। यह भवन राज्यसभा सांसद निधि से 14 लाख 39 हजार रूपये से निर्मित किया गया है। इसी प्रकार विद्यालय परिसर में राजीव गांधी शिक्षा मिशन के तहत 28 लाख रूपये की लागत से पांच कक्षों के निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया गया।

इसी प्रकार केन्द्रीय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत ने नागदा में कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास के भवन के सेकण्ड फेज प्रथम तल के निर्माण के लिये 50 लाख रूपये की राशि स्वीकृत की है। इस निर्माण कार्य का भी श्री गेहलोत ने भूमिपूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने छात्रावास परिसर में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि छात्रावासों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों का जीवन एक अनुशासित रहता है। छात्रावास में रहकर विद्यार्थी बहुत कुछ सीखते हैं। वहां की दैनिक दिनचर्या का पालन भी अनुशासित तरीके से होता है। छात्रावास साफ-सुथरा एवं व्यवस्थित देखने पर उन्होंने होस्टल अधीक्षक की प्रशंसा की। उन्होंने छात्राओं से कहा कि वह बेहतर वातावरण में मन लगाकर अपनी पढ़ाई करें और आगे बढ़ें। श्री गेहलोत ने अपने मंत्रालय के द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं एवं विभिन्न योजनाओं का विस्तार से जिक्र करते हुए लोगों से लाभ लेने की गुजारिश की। सामाजिक विषमताओं को दूर करने के उद्देश्य से छात्रावासों में अत्यधिक सीट वाले छात्रावासों का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि इन्दौर में 500 सीटर का छात्रावास का निर्माण किया गया है। इनमें हर वर्ग के छात्र एक छत के नीचे रहकर विद्याध्ययन कर सकेंगे। समरसता बनी रहे, इसका हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने छात्रावास अधीक्षक से कहा कि छात्रावास में सीटें कम पड़ रही हो तो वह प्रस्ताव बनाकर भेजें, ताकि और छात्रावास का विस्तार किया जा सके।

क्षेत्रीय विधायक श्री दिलीपसिंह शेखावत ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा के क्षेत्र में लगातार विकास के काम कर रही है। शहर एवं ग्रामीण अंचलों में नित नये विकास के कार्य करवाये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की सोच है कि प्रदेश में समग्र विकास हो, उसी को ध्यान में रखते हुए आवश्यकता अनुसार विकास के कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रायवेट विद्यालयों से अब हमारे शासकीय विद्यालयों में बेहतर परीक्षा परिणाम आ रहे हैं। तेजी से शिक्षा में गुणवत्ता बढ़ी है। शासकीय स्कूलों में छात्रों का रूझान बढ़ा है। शिक्षा के प्रति सजगता होगी तो निश्चित ही शालाओं में गुणवत्ता आयेगी। विधायक ने अवगत कराया कि आज रविवार 9 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे बसस्टेण्ड के समीप कम्युनिटी हॉल नागदा में केन्द्रीय मंत्री श्री थावरचन्द्र गेहलोत के मुख्य आतिथ्य में उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत हितग्राहियों को गैस किट उपलब्ध कराई जायेगी।

कार्यक्रम में डॉ.तेजबहादुर सिंह चौहान ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि क्षेत्र में केन्द्रीय मंत्री एवं अन्य जनप्रतिनिधियों के अथक प्रयासों से विकास के कामों की गंगा बह रही है। उन्होंने नवीन विद्यालय भवन और पांच अतिरिक्त कक्ष के निर्माण करवाने पर शहरवासियों को बधाई दी। इस अवसर पर नागदा नगर पालिका अध्यक्ष श्री अशोक मालवीय ने भी अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि क्षेत्र में समस्या होगी तो निश्चित ही उसका समाधान भी होगा। विद्यालय परिसर में बरसात के दिनों में पानी भर जाने से छात्रों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है, इसके लिये उन्होंने शाला के प्राचार्य से कहा कि वह प्रस्ताव बनाकर भेजें, ताकि परिसर को सीमेन्ट-कांक्रीटीकरण का कार्य कराया जा सके। वहीं उन्होंने कहा कि कस्तूरबा छात्रावास भवन के ऊपर प्रथम तल का निर्माण किया जायेगा, यह अनुकरणीय है।

कार्यक्रम के पूर्व अतिथियों ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। संस्था की ओर से अतिथियों का पुष्पहारों से आत्मीय स्वागत किया गया। कार्यक्रम के बाद नवीन भवन का लोकार्पण किया और पांच कक्षों के निर्माण कार्य का भूमिपूजन और कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास में विधिवत निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया गया। कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास के सेकण्ड फेज प्रथम तल का निर्माण कार्य 50 लाख रूपये की लागत से किया जायेगा।

कार्यक्रम में सर्वश्री धर्मेन्द्र जायसवाल, सज्जनसिंह शेखावत, अशोक महावर, श्रीमती विमला चौहान, गोपाल यादव, हरिसिंह गुर्जर, पार्षद श्रीमती अर्चना वर्मा, अनुविभागीय अधिकारी नागदा एवं सम्बन्धित संस्थानों के प्राचार्य, शिक्षक, छात्राएं आदि उपस्थित थे।

-संतोष कुमार उज्जैनिया (मो.नं.-9425379653)

क्रमांक 062-3212 जोशी