October 21, 2018

Latest News

पहले ढाई कि.मी. दूर से पानी लाते थे नल जल योजना बनी, तो डेढ़ साल से घर बैठे चौबीस घंटे पानी मिल रहा है

उज्जैन 23 मार्च। पंचक्रोशी मार्ग का महत्वपूर्ण पड़ाव पिंगलेश्वर कभी पानी की बूंद-बूंद के लिये तरसता था। गांव के लोग पेयजल के लिये दो से ढाई किलो मीटर दूर बदरखा जाकर वहां से पानी लाते थे। मवेशियों के लिये भी पानी की अत्यन्त समस्या थी। साल में एक बार जब पंचक्रोशी यात्रियों का पड़ाव यहां डलता था, तो भी पानी की व्यवस्था इधर-उधर से करना पड़ती थी। गांव की समस्या को देखकर पीएचई ने वर्ष 2016 में 17 लाख 93 हजार रूपये की कार्य योजना बनाई और रिकार्ड समय में योजना का पूर्ण कर सिंहस्थ-2016 में इसका उपयोग किया। ग्रामीणों को इस योजना का लाभ 30 जुलाई 2016 से निरन्तर मिल रहा है।

पिंगलेश्वर ग्राम की जनसंख्या 1379 है तथा यहां पर 225 परिवार रह रहे हैं। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा इस गांव की पेयजल समस्या को दूर करने के लिये एक लाख लीटर क्षमता की टंकी का निर्माण किया गया। 20 हजार लीटर की क्षमता का सम्पवेल बनाया एवं उंडासा तालाब से डेढ़ किलो मीटर लम्बी लाईन बिछाकर पानी सम्पवेल में डाला गया।

इस कार्य के लिये दो मोटरें लगाई गईं। पम्पिंग स्टेशन दूर होने के कारण ऐसी व्यवस्था की गई कि जैसे ही टंकी में पानी खत्म हो, ऑटोमैटिक मोटर्स चालू हो जायें और टंकी भर जाये। पिंगलेश्वर के ग्रामवासियों के लिये तो यह किसी सपने के पूरे होने जैसा था। कहां पानी के लिये यहां-वहां भटकना पड़ता था, वहीं अब घर बैठे जब चाहे तब पानी की उपलब्धता हो गई है।

ग्राम पंचायत पिंगलेश्वर के उप सरपंच श्री रमेश मालवीय बताते हैं कि “अब तो पंचायत चौबीस घंटे पानी उपलब्ध करा रही है।” गांव की महिला श्रीमती कान्ताबाई ने पूछने पर वे कहती हैं कि “सरकार ने बहुत मेहरबानी करी, नी तो सिर पे मटकी रख के भोत दूर से पानी लानो पड़तो थो।” इसी तरह के विचार कु.किरण, रईस पटेल, सोहेल एवं समीर के भी हैं। ग्राम पंचायत के सहायक सचिव से जानकारी मिली कि ग्रामवासियों से चौबीस घंटे पानी देने के एवज में मात्र 100 रूपया महीना बिजली खर्च के लिये एकत्रित किया जाता है। इस समय जहां उज्जैन संभाग के कई शहरों में दो दिन छोड़कर पेयजल वितरित किया जा रहा है, वहीं मात्र 1300 की आबादी के इस गांव में चौबीस घंटे पेयजल सप्लाई होना सुखद आश्चर्य है। पिंगलेश्वर के रहने वाले सभी रहवासी इस सुविधा से अत्यधिक प्रसन्न हैं।                       (फोटो संलग्न)

क्रमांक 0860                                                              एचएस शर्मा/जोशी