October 21, 2018

Latest News

आरओ वाटर की मशीन लगाकर स्वयं का रोजगार स्थापित किया अमिता ने

उज्जैन 26 मार्च। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत रोजगार स्थापित करने के लिये उच्च शिक्षित होना आवश्यक नहीं है। 10वी पास युवा भी स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिये बैंक से ऋण प्राप्त कर सकते हैं। इसी तरह अंजुश्री कॉलोनी उज्जैन निवासी श्रीमती अमिता सुदर्शन बग्गा ने अपना रोजगार स्थापित किया है। उन्होंने सेवा उद्योग को चुनकर आरओ वाटर का प्लांट लगाया और आज 15 हजार रूपये प्रतिमाह की शुद्ध आमदनी प्राप्त कर रही हैं। यही नहीं 07-07 हजार रूपये के चार व्यक्ति भी उन्होंने रोजगार से लगा रखे हैं।

श्रीमती अमिता बग्गा विवाह के पश्चात आर्थिक संकट से गुजर रही थी और कुछ न कुछ स्वयं का व्यवसाय करना चाहती थी। स्थानीय समाचार-पत्रों में उन्होंने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के बारे में पढ़ा और इस योजना का लाभ लेने का मन बनाया। श्रीमती अमिता ने आरओ वाटर के व्यवसाय के बारे में जानकारी एकत्रित की और जिला हाथकरघा कार्यालय के अधिकारियों से सम्पर्क किया। जिला हाथकरघा कार्यालय द्वारा उनका प्रोजेक्ट बनाकर बैंक में प्रस्तुत किया गया। सिंडीकेट बैंक उज्जैन द्वारा 08 लाख 50 हजार रूपये का प्रोजेक्ट स्वीकृत कर दिया गया।

इसमें हाथकरघा कार्यालय द्वारा 02 लाख रूपये की मार्जिन मनी जमा करवाई गई। प्रोजेक्ट चल पड़ा और अब श्रीमती बग्गा के आरओ प्लांट से उज्जैन शहर में शादी-ब्याह एवं आयोजनों में पानी की केन सप्लाई की जाती है। चार व्यक्तियों को वे 07-07 हजार रूपये के मान से पारिश्रमिक का भुगतान करती हैं। बिजली व्यय एवं ईएमआई के 17 हजार रूपये प्रतिमाह काटने के बाद अमिता को 15 हजार रूपये का शुद्ध लाभ हो रहा है। इस तरह मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना से युवा महिला अपना स्वयं का रोजगार स्थापित करने में सफल हुई हैं।                                           (फोटो संलग्न)

क्रमांक 0893                                                               एचएस शर्मा/जोशी