December 15, 2018

Latest News

पुजारियों का मानदेय तीन गुना बढ़ाया जायेगा : संबल योजना से लाभांवित होंगे पुजारी, पुजारी स्वयं कर सकेंगे मंदिरों की 10 एकड़ से ज्यादा कृषि भूमि की नीलामी, मुख्यमंत्री श्री चौहान से ब्राह्मण समाज और पुजारी महासंघ के प्रतिनिधियों की भेंट

उज्जैन 05 अक्टूबर । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शासन द्वारा संधारित मंदिरों के पुजारियों का मानदेय तीन गुना बढ़ाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि कम आय वाले पुजारियों को भी संबल योजना का लाभ मिलेगा। जिन मंदिरों के पास 10 एकड़ कृषि भूमि है, उसमें कृषि कार्य पुजारी स्वयं कर सकेंगे और इससे प्राप्त होने वाली आय से जीविकोपार्जन करेंगे। मंदिरों की 10 एकड़ से ज्यादा कृषि भूमि की नीलामी पुजारी स्वयं कलेक्टर के प्रतिनिधि के मार्गदर्शन में कर सकेंगे।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में मुख्यमंत्री निवास पर ब्राह्मण समाज और पुजारी महासंघ के प्रतिनिधि मंडल से चर्चा के दौरान यह घोषणाएं की हैं। प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को विभिन्न मुद्दों से अवगत कराया। राज्य शासन द्वारा मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुक्रम आदेश जारी कर दिये गये हैं। पुजारियों ने मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता और उनकी पहल का स्वागत किया है।
पुजारियों को तीर्थ दर्शन योजना का लाभ
शासन द्वारा संधारित मंदिरों में पुजारियों की नियुक्ति एवं उन्हें प्रथक करने का अधिकार ग्राम सभा के बजाय अब अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के पास होगा। इन मंदिरों के पुजारियों को मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का लाभ दिया जायेगा। इनके लिये आयु का बंधन नहीं होगा। पुजारियों को 10 एकड़ की कृषि भूमि में कृषि कार्य करने के लिये कृषि ऋण के लिये पात्र बनाने के उद्देश्य से ऋण पुस्तिका जारी करने पर विचार किया जायेगा। पुजारियों का वर्ष में दो बार स्वास्थ्य परीक्षण कराया जायेगा। आवासहीन पुजारियों को अपने गाँव अथवा नगर में मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना अथवा प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से मकान उपलब्ध करवाया जायेगा।
क्रमांक 2770B पंकज मित्तल (9301209255)/ललित