December 15, 2018

Latest News

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 10 अक्टूबर को मनाया जायेगा

उज्जैन 06 अक्टूबर। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एमएल मालवीय ने जानकारी दी कि आगामी 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जायेगा। गौरतलब है कि वर्तमान में आजीविका एवं कार्य की अधिकता का दबाव शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ती हुई प्रतिस्पर्धा का दबाव, सामाजिक कलह, आर्थिक समस्या सहित कई उदाहरण हैं, जिनके कारण मानसिक स्वास्थ्य को खतरा प्रकट होता है। व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ्य उसकी भावना को मनोवैज्ञानिक ढंग से समझने की अवस्था है, जिसमें मनुष्य रोजमर्रा की साधारण मांगों को पूरा करने के लिये भावनात्मक क्षमताओं का इस्तेमाल करके समाज आत्म सम्मान के साथ रहता है।
कई लोग मानसिक समस्या की परेशानी के चलते उग्रता का व्यवहार करने लगते हैं और अचानक ही हमारी सामाजिक दुनिया से गायब हो जाते हैं। अचानक इस प्रकार से व्यवहार करने वाले लोग आमतौर पर इस भावना से ग्रस्त होते हैं कि उन्हें कोई नहीं समझता और उनके साथ लगातार बुरा हो रहा है। ऐसे तनाव में वे लोग गलत कदम उठा लेते हैं।
इस तरह की स्थिति में यह जरूरी है कि हम स्वयं पर विश्वास रखें, अपने शरीर का ध्यान रखें, पौष्टिक आहार लें, व्यायाम करें, धुम्रपान एवं नशे का सेवन न करें, अपने परिवार, मित्र, पड़ौसी व नये लोगों से मुलाकात करें, अकेले कम रहें, अपने लिये समय निकालें, अच्छे कामों में मन लगायें, संगीत सुनें, योग करें, दूसरों की मदद लेने में संकोच न करें, आवश्यकता होने पर नजदीकी अस्पताल या स्वास्थ्य केन्द्र में चिकित्सक से सलाह लें।
उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा मानसिक रोगों से ग्रसित लोगों के पुनर्वास एवं उनमें सुधार लाने की सेवाएं प्रदान की जा रही हैं।
क्रमांक 2784 अनिकेत शर्मा/जोशी